Thursday, February 5, 2009

चोखेरबाली की प्रथम वर्षगाँठ,यह रहा गोष्ठी का न्योता

साल भर पहले 4 तारीख की रात बिना किसी योजना के , कुछ तत्कालीन ब्लॉगीय दबावों के तहत चोखेरबाली ब्लॉग की शुरुआत हो गयी।धीरे-धीरे बहुत से साथी जुड़ते गये और काँरवाँ बनता , बढता गया। यह कुछ अजीब नही था, बल्कि ऐसा कुछ न होना अजीब था।हिन्दी ब्लॉगजगत पर समता, बन्धुत्व ,बराबरी के मूल्यों मे विश्वास रखने वाले चन्द लोग तो थे और हैं लेकिन समानता की बात करने वाली , खुल कर बात करने वाली स्त्रियों के लिए रह रह कर जब भिन्नाटी औरतें , बेवकूफ समाजवादी औरतें और उछलने वाली औरतें जैसे प्रयोग और स्त्रियों के किताब पढने से , रसोई मे भागीदारी चाहने के सवाल से , विवादों मे न पडने की सलाह पर भी स्त्रियों द्वारा अपना पक्ष रखने से आजिज़ आ चुका ब्लॉग जगत का एक बड़ा हिस्सा शायद कहीं न कहीं चोखेरबाली के जन्म की भूमिका बना रहा था।

हालांकि रेड लाइट एरिया खोलने की सलाहें अब भी यदा कदा मिल जाती हैं पर हमे खुशी है उन टिप्पणियों और पाठकों की वजह से जिन्होने किसी पोस्ट को बहस, विमर्श,वार्ता की दिशा मे अग्रसर होने मे मदद की।उनका आभार!इस एक साल मे चोखेरबाली को भरपूर स्नेह मिला(गालियों की गिनती फिर कभी करेंगे),पाठकों से सराहना मिली, प्रिंट मीडिया का भरपूर नोटिस मिला।हिन्दी मे पहली महिला ब्लॉगर पदमजा से चोखेरबाली तक का यह ब्लॉगीय सफर बेहद दिलचस्प रहा जिसका साक्षी यह विराट साइबर स्पेस है जिसमें हर गाली, हर प्रशंसा,प्रोत्साहन हर व्यंग्य, हर ताना,अपशब्द ,विरोध और निन्दा और साहस शताब्दियों के लिए दर्ज़ हो गया है। इस एक साल मे हिन्दी ब्लॉगिंग मे चोखेरबाली का क्या अवदान बनता है यह सब आप सुधी पाठक बेहतर बता पाएंगे।फिलहाल हम सभी बालियाँ इसे उत्सव की तरह मनाने के मूड मे हैं। लेकिन एक वैचारिक मंच की भूमिका अदा करते हुए गोष्ठी का आयोजन करके।

आप सब भी शामिल हों तो प्रयास सफल-
सार्थक होगा , यह रहा निमंत्रण पत्र -

23 comments:

Anonymous said...

yah utana acchha nahi hai

कुश said...

चोखेर बाली मंच ने सफलतापूर्वक एक साल पूरा किया इसके लिए बधाई..

इस एक साल में चोखेर बाली मंच को मैने कई विवादो में से चीरते हुए बाहर निकलते देखा है.. आपकी हिम्मत आपका हौसला और आपके जज़्बे को सलाम..

ये मंच यूही उन्नति की राह पर बढ़ता रहे.. और यदि एक भी व्यक्ति इस से कुछ सीख ले तो मैं समझता हू की इस मंच की सार्थकता वही होगी....गोष्ठी के लिए शुभकामनाए

Anonymous said...

शुभकामनाऐं..

निमंत्रण पत्र बहुत सुन्दर लगा..

आभा said...

मैं वहाँ उपस्थित हूँ यह मान कर चलिएगा...

mamta said...

पहली वर्षगाँठ मुबारक हो ।
और भविष्य के लिए शुभकामनाएं ।

Vikas Kumar said...

मै इस ब्लोग का नया सदस्य हूँ लेकिन चोखेरबाली के एक साल पुरा कर लेने की खूशी मुझे भी है और आप सब को भी बधाई देना चाहूँगा.
संगोष्ठी मे मै आ तो नहि सकूँगा लेकिन अछा होगा अगर संगोष्ठी के बारे मे पढने को मिले.

Sanjay Grover said...

निमंत्रण-पत्र संुदर और कलात्मक है और आपका नया ईमेल संयोग ही से मेरे ईमेल samvadoffbeat@yahoo.co.in और ब्लाॅग के नाम www.samwaadghar.blogspot.com से मिलता-जुलता है सो मै तो समझिए कार्यक्रम में बैठे-बैठे ही शामिल हो गया।

हल्की-सी जलन तो होगी क्योंकि......
######हम सभी बालियाँ इसे उत्सव की तरह मनाने के मूड मे हैं।....#######

मगर यह जलन आपकी खुशी से नहीं अपनी वंचितता की वजह से होगी।
*********अनगिनत शुभकामनाएं।*********

ghughutibasuti said...

शुभकामनाएँ। आशा है यह गोष्ठी सफल रहेगी।
घुघूती बासूती

Arvind Mishra said...

बधाई ! विषय अच्छा चुना है यही कामना हैं की स्त्री प्रश्न महज यक्ष प्रश्न ही बन कर न रह जायें ! "स्त्री प्रश्न" से गुप्त प्रश्नों सा भी बोध हो रहा है -जबकि शायद बहुत महत्वपूर्ण पहलू होने के बावजूद भी यह विमर्श का मुदा नही बनेगा ! तो विमर्श का मुद्दा बनेगा क्या ?
१-स्त्री समानता २-जेंडर बायस ३-स्त्री उत्पीडन ४-घरेलू हिंसा ५-यौन शोषण
बस ऐसे ही मैंने भी कुछ सोच डाला !
नाऊ वीमेन आर रियली ऑन टॉप ! पुनः बधाई !

Anonymous said...

शुभकामनाऐं..

राजीव तनेजा said...

पहली वर्षगाँठ पर ढेरों बधाई....

अर्चना said...

gosthi men prakat kiye gaye wicharon ko padhane ki pratiksha rahegi.

अविनाश वाचस्पति said...

बधाई यहां भी दे रहा हूं
और वहां भी दूंगा
पहुंचूंगा जरूर
आप दे रही हैं न्‍यौता
इसलिए नहीं दूंगा धोखा।

स्वप्नदर्शी said...

बधाई और शुभकामनाएं ।

मीनाक्षी said...

प्यार और आशीर्वाद..

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

Chokherbali's firs year signiflies a milestone , just the first among many more to follow after this , to creat a stage where all relevant women's issues will take center.
warm regards to every one who feels connected to this noble crusade.
- Lavanya

Anonymous said...

साल पूरा करने पर बधाई।

यह चिट्ठा भी अपने में अनूठा - बन्द न होने पाय।

Dr. Amar Jyoti said...

हार्दिक बधाइयां। आपका अभियान जनान्दोलन में विकसित हो यही कामना है।

Udan Tashtari said...

चिट्ठे की वर्षगांठ की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.

seema gupta said...

शुभकामनाऐं..

regards

Manisha said...

पहली वर्षगांठ पर हार्दिक बधाई। आने वाली ऐसी कई बर्षगांठों के लिये शुभकामनायें

मनीषा
हिंदीबात

shelley said...

chokher baali ko bahut - bahut shubhkamnayen. hamesha aise hi pyare- pyare post deta rahe

Asha Joglekar said...

बधाई एक साल पूरा करने पर ।

अनुप्रिया के रेखांकन

स्त्री को सिर्फ बाहर ही नहीं अपने भीतर भी लड़ना पड़ता है- अनुप्रिया के रेखांकन

स्त्री-विमर्श के तमाम सवालों को समेटने की कोशिश में लगे अनुप्रिया के रेखांकन इन दिनों सबसे विशिष्ट हैं। अपने कहन और असर में वे कई तरह से ...