Monday, March 2, 2009

क्या 8 मार्च को सीता सैनिक गेटवे ऑफ इंडिया पर पुरुषों को बचाने जाएंगी ?

एक ब्लॉग दोस्त हैं शोभा डे। मैने बचपन से ही उनका बहुत नाम सुना है।अब ब्लॉग भी देख रही हूँ।करने को आप वहाँ जाकर आलोचना-सराहना कर सकते हैं लेकिन मै फिलहाल कुछ और बताने हाज़िर हुई हूँ।
ब्लॉग दोस्त शोभा डे और अहम नाम से ब्लॉगिंग करने वाले एक सज्जन ने ऐलान किया है कि वे सीता सैनिक हैं।राम सैनिकों की हरकतों का विरोध करने के लिए शोभा डे के विचार के अनुसार AHAM ने ऐलान किया है कि वे 8 मार्च महिला दिवस पर गेटवे ऑफ़ इंडिया पर कम से कमतर कपड़ो मे खड़े होंगे।एक ब्लॉग भी बनाया गया है सीता सेना S.I.T.A. stands for Sensitivity In True Action


25 फरवरी को वे लिखते हैं -

I, A Man of Democratic India, would be at Gateway of India wearing "(supposedly) Obscene" shorts on WOMAN'S DAY, March 08, 2009 in broad day light at TIME TBC (they abused our women in western outfits in broad day light you see) Are there other men who would like to join me… please be there in your shortest shorts with me.
omg, the thought of getting beaten up, molested, bottom pinched... scares me. We Request all women to be there with us in large numbers to protect me, the shorts clad man.

__________


फिर 27 फरवरी को वे एक पोस्टर लगाते हैं और स्त्रियों का आह्वान अपनी रक्षा के लिए कर रहे हैं। ओह माइ गॉड यह पोस्टर भद्दा नही लग रहा!
_______________

1 मार्च को वे लिखते हैं

Women With A Whistle Around Their Neck... are requested to join men in shorts at Gateway at TIME (ToBeConfirmed).
Do remember to bring placards demanding action against people believe in "ManHandling" Women.-


________________________

निशा सूसन के कैम्पेंन की तरह इसकी भी लानत मलामत हो सकती है, आप आज़ाद हैं लेकिन इतना तो है कि ज़्यादातर को यह उतना ओब्सीन नही दिखेगा।और कुछ भी हो अहम के इस इनिशियेटिव के लिए की गयी हिम्मत इग्नोर करने लायक नही है।फिलहाल मुझे इंतज़ार है 8 मार्च का यह देखने का कि अहम के साथ कितने पुरुष उस दिन आ जुटेंगे?

14 comments:

Unknown said...

भारत है कुछ भी करो जो मन भाये । गुलाब से गुलाबी ???????????????? होगया ब्लाग पर । कि आज तक भी पोस्ट से खुमार नहीं उतर रहा है । अब देखते है कि क्या होता है आगामी दिनों में।

Sanjay Grover said...

इस संदर्भ में मेरे ब्लाॅग (www.samwaadghar.blogspot.com) पर 23-02-2009 को प्रकाशित कार्टून देखें। अत्यंत ही प्रासंगिक है।

Arvind Mishra said...

हूँ यह भी एक पहल होनी थी /है ! प्रतीकात्मक भले ही है ! अपने अपने गिरेबानों में झाकने का वक्त है !

Unknown said...

नाम भी "सीता सैनिक" रखा है, "फ़ातिमा सैनिक" रखते तो उन लोगों को ज्यादा "मजा" आता (मजा चखना पड़ता)… वैसे शोभा डे से और ज्यादा की उम्मीद करना भी नहीं चाहिये… रही "हिम्मत" की बात, यह सारी हिम्मत मुस्लिम संगठनों के खिलाफ़ कोई कदम उठाने से पहले ही पता नहीं कहाँ चली जाती है…

Unknown said...

यह एक उकसाने और भड़काने वाली कार्रवाई है… और कुछ खास तत्व चाहते हैं कि हिन्दू संगठन इस विवाद में कूदें, लेकिन यह खेल खतरनाक भी साबित हो सकता है, या बूमरैंग भी हो सकता है…

Jayram Viplav said...

achchha nuskha hai faltu ki baton ko nari -sshaktikaran se jod kar naam kamane ka .................chalate raho apni -apni dukan ...........
jai ho mata sobha day .........bilkul maiya arundhati aur bshan nisha ke nakse kadam par ja rahi hain. kam se kam isi bahane 61 ki umar mein jate-jate media charcha to mil jaye .....................kal tak dusron ko sri ram ke nam par sangathan banane ke liye kosne wale aaj khud maa sita ka naam lekar aisi harkaten kar rahen ..........sharm aati hai in par ...
ek taraf chunaw dusri aor pakistan bangladesh mein ashanti . are desh ke samne itni samasya kasm hai jo naya bakheda khada kar rahin hasi mate kripa karo .....................!!!!!!!!!!!!!

Jayram Viplav said...

achchha nuskha hai faltu ki baton ko nari -sshaktikaran se jod kar naam kamane ka .................chalate raho apni -apni dukan ...........
jai ho mata sobha day .........bilkul maiya arundhati aur bshan nisha ke nakse kadam par ja rahi hain. kam se kam isi bahane 61 ki umar mein jate-jate media charcha to mil jaye .....................kal tak dusron ko sri ram ke nam par sangathan banane ke liye kosne wale aaj khud maa sita ka naam lekar aisi harkaten kar rahen ..........sharm aati hai in par ...
ek taraf chunaw dusri aor pakistan bangladesh mein ashanti . are desh ke samne itni samasya kasm hai jo naya bakheda khada kar rahin hasi mate kripa karo .....................!!!!!!!!!!!!!

Anonymous said...

सामाजिक विरोध में कपड़े उतार लेने से ही अगर क्रांति हो जाती है, तो यह काम हमारे क्रांतिकारियों ने बहुत पहले कर लिया होता। आपको हकीकत मालूम नहीं और...

Anonymous said...

कोई टिपण्णी नही
हम तो केवल आनंद लेंगे
८ मार्च का बेसब्री से इंतजार

रंजना said...

हा हा हा .......

eklavya said...
This comment has been removed by the author.
eklavya said...

हे राम कोई तो इन लोगो को समझाए की समाज मे क्रांति लाने के लिए अच्छे और क्रांतिकारी विचारो की ज़रूरत होती है ना की शालीनता छोड़ कर कपड़े उतारने की. हे प्रभु इन लोगो को कुछ तो समझ दो. देश वैसे ही चारो और से मुश्किलो से घिरा है ऐसे समय मे ऐसे काम कर देश के लिए नयी परेशानी ना पैदा करो. कुछ तो अकल से काम लो.

Anonymous said...

kya naya stri-vimarsh aisa hoga--
बस देखना है

थोडी देर की है बात
आएगी फ़िर हाथ
पकडूँगा मैं उसको
करूंगा मन की ॥

भागती फिरती थी आज तलक जो
देखना कैसे ठहरती है वो
रोक कर उसको दिखलाऊंगा मैं
हिरनी थी जो ऊँचे नील गगन की ॥
http://gangadharsharma.blogspot.com/2009/03/blog-post.html

Anonymous said...

AV,無碼,a片免費看,自拍貼圖,伊莉,微風論壇,成人聊天室,成人電影,成人文學,成人貼圖區,成人網站,一葉情貼圖片區,色情漫畫,言情小說,情色論壇,臺灣情色網,色情影片,色情,成人影城,080視訊聊天室,a片,A漫,h漫,麗的色遊戲,同志色教館,AV女優,SEX,咆哮小老鼠,85cc免費影片,正妹牆,ut聊天室,豆豆聊天室,聊天室,情色小說,aio,成人,微風成人,做愛,成人貼圖,18成人,嘟嘟成人網,aio交友愛情館,情色文學,色情小說,色情網站,情色,A片下載,嘟嘟情人色網,成人影片,成人圖片,成人文章,成人小說,成人漫畫,視訊聊天室,a片,AV女優,聊天室,情色,性愛

अनुप्रिया के रेखांकन

स्त्री को सिर्फ बाहर ही नहीं अपने भीतर भी लड़ना पड़ता है- अनुप्रिया के रेखांकन

स्त्री-विमर्श के तमाम सवालों को समेटने की कोशिश में लगे अनुप्रिया के रेखांकन इन दिनों सबसे विशिष्ट हैं। अपने कहन और असर में वे कई तरह से ...